मुखपृष्ठ>
  • खिली बत्तीसी
  • >
  • कोई तो बात है
  • कोई तो बात है

    koi to baat hai

     

     

     

     

     

     

     

     

    कोई तो बात है

    (दुनिया में जितने मनुष्य हैं सबके पास दिल है, लेकिन…)

     

    हरेक दिल में

    महकती कोई फुलवारी है।

     

    हरेक दिल में

    सुलगती कोई चिंगारी है।

     

    हरेक दिल में

    तड़पती कोई दिलदारी है।

     

    हरेक दिल में

    चहकती कोई किलकारी है।

     

    हरेक दिल में

    अदाएं हैं, अदाकारी है।

     

    हरेक दिल में

    क़रारों की बेक़रारी है।

     

    हरेक दिल में

    सुर है, लय है, चित्रकारी है।

     

    हरेक दिल में

    कुछ अजीब सी फ़नकारी है।

     

    हरेक दिल में

    कोई शक्ति अहंकारी है।

     

    हरेक दिल में सुनो

    थोड़ी सी मक्कारी है।

     

    दिल में सब कुछ है

    मगर कैसी मज़ेदारी है….

     

    सामने खुल के कभी

    कोई नहीं आता है।

     

    कोई तो बात है

    जिसकी कि परदादारी है।

    wonderful comments!

    Comments are closed.