मुखपृष्ठ>
  • चौं रे चम्पू
  • >
  • साठ हुए गणतंत्र के ठाठ
  • साठ हुए गणतंत्र के ठाठ

    —चौं रे चम्पू! बेसन में चार तरियां की दार मिलाय कै चीला बनाए ऐं, खायगौ?

    —क्यों नहीं चचा! तुम्हारे चीले बड़े लचीले! ऐसी नेकी में कैसी पूछ पूछ?

     

    wonderful comments!