मुखपृष्ठ>
  • चौं रे चम्पू
  • >
  • बैनीफिट ऑफ डाउट
  • बैनीफिट ऑफ डाउट

    चौं रे चम्पू! जे किरकिट में अम्पायरन कौ का काम ऐ?

    चचा अम्पायर का मतलब है साम्राज्य, और किरकिट का ये जो खेल है, वो है साम्राज्यवादी खेल। जनता के लिए गेट के बाहर अखाड़े और रजवाड़े के अंदर किरकिट के बाड़े। राजाओं ने ये खेल अपने लिए शुरू किया। चचा, मैदान में जब राजा से राजा भिड़ें तो कहीं विकेट उखाड़उखाड़ के आपस में ही न लड़ पड़ें, इसलिए उन्होंने दो अहिंसक ज्ञानी गुर्गों को पाँव बंधे मुर्ग़ों की तरह खड़ा कर दिया कि तुम देखना। तो, खेलने के लिए राजा जाए या रानी जाए, जिसकी बात मानी जाए, जिसकी बोले तूती, जिसके दो पाँवों में एक जूती, जलियां वाला के मैदान में जैसे होता है जनरल डायर, वैसे ही होता है किरकिट के मैदान में अम्पायर। उसको दे दी गई इतनी पावर कि जब चाहे खिलाड़ी के पांवों में लगा दे महावर, कि जा बच्चू पैबेलियन में बैठ के सुखा। अपील करके अपना दिल मत दुखा। चचा, अम्पायर का काम है नियम से, कायदे से, किसी को फ़ायदे नुकसान की फ़िकर किए बग़ैर डिसीज़न लेना। लेकिन पट्ठे करते हैं गड़बड़ी, और छोटी नहीं बड़ीबड़ी। जो सबको दिखाई दें और सुनाई दें, जनता गाली दे, सिर्फ जीतने वाले बधाई दें। पर इनके कानों में तो चुकंदर का तेल, यानी चूक हुई अंदर पर बाहर वाले फेल।

    जब इन्हें पंच बनायौ है, नियमकायदाऊ ऐं तौ जे ऐसौ प्रपंच चौं करैं रे चम्पू?

    साम्राज्यवादी सोच की बदौलत…. और दूसरी दौलत। आलोचकों की लात खाने की भी लत पड़ चुकी है। देखिए चचा! इन्हें खेलने का तो कोई मौका मिलता नहीं। भागतीदौड़ती दुनिया में ठूंठ से खड़े हैं, दिमाग में चढ़ जाती है गर्मी। फिर ये जिससे खुंदक खा जाएं उसके लिए कई बार दिखाते नहीं है नर्मी। नियमक़ानून तो कोर्ट कचहरी में भी हैं बहुत सारे। अगर नियम के हिसाब से चलो तो लोग जिस तरह की हरकतें करते हैं खोटी, हज़ारों कि संख्या में फांसी चढ़ जाएं और जेलें पड़ जाएं छोटी। कितने ज़्यादा होते हैं अपराध, पकड़ में आते है एकआध। जज कह देगा— ‘बैनीफिट ऑफ डाउट। अब हमें मालूम है कि इस आदमी ने कत्ल किया था, इसी के पास छुरा मिला था। लेकिन पुलिस के मालख़ाने से छुरा ग़ायब। गवाह कोई है नहीं। तबाह होने वाला तबाह हो चुका। तबाही से पहले की दशा वापस लाई नहीं जा सकती, तो क्या करो? ‘बैनीफिट ऑफ डाउटदे दो। बकनर ने जो कह दिया, कह दिया, सारी दुनिया बका करे। बेन्सन ने जो मेन्सन कर दिया, कर दिया, सारी दुनिया टेंशन ले तो लिया करे। पोंटिंग हो या सायमंड्स, नॉट आउट तो नॉट आउट, किसी ने चींचपड़ की तोबैनीफिट ऑफ डाउट। द्रविड़ और गांगुली तुम अपनी जगह फिट थे पर तुम्हें बैनीफिट नहीं मिला सिर्फ़ आउट मिला। चचा, हर जगह हो रही है अम्पायरों की थूथू!

    होमन दै! अब तौ कछू सुनाय दै तू!

    किरकिट में घिचपिच बढ़ी, पिच पर ठिठके मित्र,

    गड़बड़ अम्पायर करें, हालत बड़ी विचित्र।

    हालत बड़ी विचित्र, सभी के दिल में फायर,

    खिसयाए खिसयाए अब कहते अम्पायर

    हमको भी तो डाउट का बैनीफिट दे दो,

    आगे देखो, बुझी आग को नहीं कुरेदो।

    wonderful comments!