मुखपृष्ठ>कविता डाउनलोड

पहले बीस साल निकल गए घरौंदा बनाने और बच्चों के लालन-पालन में। अगले बीस साल जीवन-मंच के संचालन में। चालीसवीं सालगिरह बच्चे मना रहे हैं बाली में। खुश है आपका चम्पू और प्रसन्नता है आपकी लाली में। प्यार आपस में बाँटा है। पूल में केक काटा है। बाक़ी बातें लौटने पर।