अशोक चक्रधर > Blog > खिली बत्तीसी > यारा प्यारा तेरा गलियारा

यारा प्यारा तेरा गलियारा

yaaraa pyaaraa teraa galiyaaraa

 

 

 

 

 

 

 

 

 

यारा प्यारा तेरा गलियारा

(एक सूफ़िया कलाम, यार के गलियारे के नाम)

 

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

गलियारे में अम्बर उतरा

ऐसा सबद उचारा।

 

गलियारे में हल्ला है

पट शायद खुले तुम्हारा,

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

 

गलियारे में उतरे तारे

झिलमिल झिलमिल सारा,

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

 

गलियारे में ख़ुश्बू तेरी

उस ख़ुश्बू ने मारा,

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

 

गलियारे में चूड़ी खनकी

समझा उसे इशारा,

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

गलियारे में फूल खिला है

मैं भंवरा मतवारा,

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

 

गलियारे में रंग भर गए

नैन चला पिचकारा,

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

 

गलियारे में सब दुखियारे

मैं इकला सुखियारा,

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

 

गलियारे में झलक दिखाई

भाग गया अंधियारा,

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

 

गलियारे में धूप न आवै

रूप करै उजियारा,

यारा, प्यारा तेरा गलियारा।

 


Comments

comments

Leave a Reply