अशोक चक्रधर > Blog > खिली बत्तीसी > सुरसा की मुंहबोली बहन सुरसी

सुरसा की मुंहबोली बहन सुरसी

surasaa-kee-munhabolee-bahan-surasee

 

 

 

 

 

 

 

 

 

सुरसा की मुंहबोली बहन सुरसी

(पौराणिक पात्र यथार्थ में भी दिखाई देने लगते हैं, कभी सजीव कभी कुरसी जैसे निर्जीव।)

 

ज्ञात होगी आपको

त्रेता युग की

वह राक्षसी-

सुरसा!

 

जिसके मुंह में

हनुमान घुसे

और मच्छर बनकर

निकल आए थे

सहसा।

 

विश्वस्त सूत्रों से

ज्ञात हुआ है कि

एक बहन और थी उसकी

जिसका नाम था-

सुरसी।

 

और

वह सुरसी ही

इस कलिकाल में

बन गई है

कुरसी।

 

आदमी इसमें

मच्छर की तरह

घुस जाता है,

लेकिन

थोड़ी ही देर में

हाथी की तरह

फूलकर

फंस जाता है।

 

सुरसी

उसी राजा बनाती है,

उसे मनमानी सिखाती है,

और धीरे-धीरे

उसका धरम-ईमान

खा जाती है।

 

 


Comments

comments

Leave a Reply