मुखपृष्ठ>
  • Podcast
  • >
  • चमत्कारी ज़ेवर हथकड़ी – podcast episode 6
  • समाचार पढ़ते ही कविताएं बनने लगती हैं। इसका एक और छोटा सा नमूना मैं आपको आज के इस पोडकास्ट में इस श्रृंखला की इस कविता के तौर पर प्रस्तुत कर रहा हूं…..।

    wonderful comments!

    1. Abhinavbalmannpatrika Aug 3, 2012 at 7:42 am

      आपके शब्दों के खेल में जो बात निकलती है वो हमेशा सटीक होती है...हंसी के साथ...सच्चाई बताना बहुत रोचक लगता है....इसमें भी यही रोचकता है....

    2. vijay Tyagi Aug 27, 2012 at 8:12 pm

      bahut khoob Guru ji, choti maar gehraa asar

    प्रातिक्रिया दे