अशोक चक्रधर > Blog > खिली बत्तीसी > बीएफ जीएफ टीएफ सीएफ….

बीएफ जीएफ टीएफ सीएफ....

20110202 Bf gf tf cfश्रीमानजी की बेटी का बीएफ

यानी बॉय फ्रेंड

और बेटे की जीएफ

यानी गर्ल फ्रेंड आई,

दोनों ने अपनी-अपनी कार

पड़ोसी के घर के आगे लगाई।

 

पड़ोसी ने घर के आगे लिखा था

जो जीएफ-बीएफ को नहीं दिखा था—

यहां पर जो गाड़ी लगाएगा,

उसमें डेंट मारा जाएगा।

पार्किंग को लेकर टीएफ

यानी टेंशन फुल था,

फिलहाल मामला पीसफुल था।

ठंडा था।

 

बच्चों को लेकर श्रीमानजी का सीएफ

यानी क्लीयर फंडा था—

जल्दी ही डीएफ

यानी डबल फेरे कराएंगे,

ज़िम्मेदारियों से निजात पाएंगे।

 

उधर पड़ोसी ने कर डाली वारदात,

बीएफ और जीएफ की गाड़ियों पर मारीं

बाईं और दाईं लात।

ईएफ यानी इफैक्टिव फाइटिंग की

हो गई तनातनी,

वीएफ यानी वैरी फनी।

श्रीमानजी ने भी पड़ोसी के बच्चों से

अपनी दोनों टांगें तुड़वा लीं,

और इस तरह अपने अभिमान की

मूंछें मुंड़वा लीं।

 

अब अस्पताल में

अपने पीएफ का हिसाब लगाते हुए

मन में शादियों के शामियाने तानते हैं,

पीएफ क्या होता है

बाई द वे सब जानते हैं।


Comments

comments

5 Comments

  1. bhavesh bhatt |

    अपने अभिमान की
    मूंछें मुंड़वा लीं।

    waah…bahut achche…

  2. satendra kulshershtha |

    bahut khub sir……….BF ur GF ki khub vyakhya ki hai……

  3. shaikh shakeela |

    shabdo ke dhago se jo apney kavita buni hai vo sir badi hi lajavab hai bhagvan aap jaise julahe ko hamesha sukh aur samridhi de….

Leave a Reply