पुस्तकें

गूंगी अभिव्यक्तियाँ

काव्यानुवाद

गूंगी अभिव्यक्तियाँ डॉ. लक्ष्मीधर मिश्रा की 19 खंडों में विभक्त एक लंबी कविता Language – Beyond a Vehicle of Expression का काव्यानुवाद है। इस अनुवाद की ख़ूबी यह है कि जितनी पक्तियां अंग्रेजी में हैं, ठीक उतनी ही पंक्तियां हिन्दी में भी हैं। ज़रा सी भी छूट नहीं ली गईं बावजूद इसके तुकांतों का अनुकुल निर्वाह है। और वह संवेदन संसार जो मिश्र जी की यह लम्बी कविता हमारे सामने लाती है उसे संभवत: यथावत ही नहीं बल्कि बेहतर रूप में प्रस्तुत किया गया है। काव्यानुवाद कला को जानने के लिए अंग्रेजी और हिन्दी के विन्यास को ज़रूर देखा जाना चाहिए। यह नए कवियों और अनुवादकों के लिए एक अभ्यास होगा।