पुस्तकें

नई डगर

प्रौढ़ एवं नवसाक्षर साहित्य

राष्ट्रीय प्रौढ़ शिक्षा कार्यक्रम के लिए बनाई गई प्रवेशिका है। यह प्रवेशिका व्यापक साक्षरता के लक्ष्य को ध्यान में रखकर तैयार की गई है। इसमें पढ़ना-लिखना सिखाने के लिए अनौपचारिक शिक्षा की नई पद्धति का इस्तेमाल किया गया है। पाठ-योजना इस प्रकार की बनाई है कि शिक्षार्थी के लिए न केवल रोचक हो बल्कि उसे जीवन से जोड़े। पुस्तक में कुल पचास पाठ हैं जिनका स्तर क्रमशः बढ़ता गया है। प्रारंभिक पाठों में अक्षरज्ञान कराया गया है, अक्षरज्ञान कराने के लिए प्रौढ़ शिक्षार्थी के माहौल से ऐसे शब्द लिए गए हैं, जो उसके जीवन में रचे-बसे हैं। इन शब्दों का चयन इस आधार पर किया गया है कि वर्णमाला के सभी अक्षर इनमें आ जाएं। पूरी पुस्तक में मनोरंजन और सोद्देश्यता दोनों को समान महत्व दिया गया है। कहना न होगा कि निरक्षरता उन्मूलन अभियान में इस पुस्तक ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।